5:25 am - Tuesday May 22, 2018

मुख्यमंत्री खट्टर भर्ती प्रक्रिया में पारदर्शिता लाए हैं: सुनीता दुग्गल

हरियाणा अनुसूचित जाति वित्त एवं विकास निगम की चेयरमैन सुनीता दुग्गल ने कहा भाजपा ने कभी जात-पात की राजनीति नहीं की। हरियाणा में मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने भ्रष्टाचार मुक्त सरकार दी है। उन्होंने कहा कि हरियाणा ने जातिवाद और क्षेत्रवाद को झेला लेकिन प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने ‘सबका साथ-सबका विकास’ का नारा दिया जिसे मनोहर सरकार ने हरियाणा में आगे बढ़ाया ताकि हर गरीब का विकास हो सके। इसी प्रकार हरियाणा में पहले ट्रांसफर इंडस्ट्री चलती थी लेकिन मनोहर लाल सरकार ने शिक्षकों की ऑनलाइन ट्रांसफर पॉलिसी बनाकर भ्रष्टाचार को खत्म किया है। भर्तियों में भी पारदर्शिता आई है।

बैकलॉग भरने के लिए भी उठाए कदम
दुग्गल ने कहा कि हरियाणा के मुख्यमंत्री खट्टर ने जल्द ग्रुप डी के 38 हजार पदों की भर्ती प्रक्रिया शुरू करने की घोषणा की है जिसमें विशेष रूप से गरीब समाज के युवाओं को रोजगार के अवसर प्राप्त होंगे। उन्होंने कहा कि हरियाणा में ऐसी परम्परा थी जो योग्य युवाओं का हक छीनकर 35 वर्षों के लिए अयोग्य लोगों को भर्ती करती थी लेकिन भाजपा सरकार ने इस परम्परा को बंद करते हुए बैकलॉग को भी भरने की दिशा में कदम उठाया है।

सरकार ने वर्षों से बिगड़ी व्यवस्था सुधारी। सरकार ने रोजगार एवं शिक्षा क्षेत्र में बरसों से बिगड़ी व्यवस्था को सुधारा है। भाजपा ने आज पारदर्शी व्यवस्था देते हुए युवाओं को मैरिट के आधार पर नौकरी देने की व्यवस्था की है। प्रदेश सरकार गरीब एवं पिछड़ा वर्ग के हित के लिए दशकों से उनकी बैकलॉग को भरने की मांग को पूरा करने जा रही है। सरकार ने निर्णय लिया है कि भविष्य में सफाईकर्मी और चौकीदार के पद हेतु शैक्षिक शर्त नहीं होगी। उन्होंने कहा कि 11 जिलों में समाज के युवाओं को अच्छी शिक्षा के लिए होस्टल का निर्माण व 7 जिलों में अंत्योदय सेवा केन्द्र प्रारंभ किए जाएंगे।

यह खबर आप हिन्दी रोजगार समाचारपत्र  दैनिक एक्स्प्रेस वेबसाइट के द्वारा पढ़ रहे है।

कृप्या अगर आपको हमारी यह पोस्ट पसंद आए तो ज्यादा से ज्यादा शेयर एवम् लाइक करे:-www.fb.com/dainikexpress

हम खबरें छिपाते नहीं छापते है।

 

Filed in: News

No comments yet.

Leave a Reply

*

error: Content is protected !!