9:37 am - Thursday April 19, 2018

सीएम मनोहर के पास न कार है अौर न जेवर, मंत्री हैं मालामाल

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल के नेतृत्व वाली कैबिनेट में सभी मंत्री अपने बॉस यानी सीएम से काफी अमीर हैैं। मुख्यमंत्री मनोहर लाल के पास न तो अपनी कार है और न ही कोई जेवर। मुख्यमंत्री किसी के देनदार (कर्जदार) भी नहीं हैैं। वित्त मंत्री कैप्टन अभिमन्यु, उद्योग मंत्री विपुल गोयल और पीडब्ल्यूडी मंत्री राव नरबीर की गिनती अमीर मंत्रियों में होती है। कम संपत्ति वाले मंत्रियों में कृषि मंत्री ओमप्रकाश धनखड़ का नाम आता है।

हरियाणा सरकार के मंत्रियों ने दिया संपत्ति का ब्यौरा दूसरा पहलू यह है कि राज्य के अधिकतर मंत्री अपने बॉस से अमीर जरूर हैैं, मगर अपनी पत्नियों से नहीं। वहीं पीडब्ल्यूडी मंत्री राव नरबीर की संपत्ति तेजी के साथ बढ़ रही है, जबकि महिला एवं बाल विकास मंत्री कविता जैन की संपत्ति उसी तेजी के साथ कम हो रही है।

मुख्यमंत्री मनोहर लाल समेत राज्य के तमाम मंत्रियों ने अपनी चल-अचल संपत्ति का ब्योरा सरकार को भेज दिया है। कुछ मंत्री अचल संपत्ति का वर्षवार ब्योरा देने से परहेज कर रहे हैैं। विधानसभा के बजट सत्र में बुधवार को कांग्रेस विधायक करण सिंह दलाल ने सरकार के मंत्रियों की संपत्ति के बारे में जानकारी मांगी थी। यह सवाल लगा भी, मगर प्रश्नकाल शुरू होते ही हटा लिया गया। स्पीकर ने कहा कि दो दिन बाद इस सवाल का जवाब पटल पर रखा जाएगा।

12.75 लाख रुपये के मालिक मनोहर लाल मुख्यमंत्री मनोहर लाल केवल पौने 13 लाख रुपये के मालिक हैैं। उनकी कुल चल संपत्ति 12,75,349 रुपये की है। मुख्यमंत्री के पास रोहतक जिले के गांव बनियानी में मात्र 20 कनाल जमीन है। इसी गांव में 150 वर्ग गज जमीन पर मुख्यमंत्री का मकान बना हुआ है। इसके अलावा उनके पास कुछ नहीं हैं।

रामबिलास के पास 23 लाख नगद और 2.92 करोड़ की संपत्ति शिक्षा मंत्री प्रो. रामबिलास शर्मा की चल संपत्ति की कीमत 23,61,279 रुपये है। उनके पास 2,92,07,300 रुपये की अचल संपत्ति भी है। शर्मा कैबिनेट में वरिष्ठता के हिसाब से नंबर दो के मंत्री हैैं।

धनखड़ के पास दो लाख की बीमा पॉलिसी और तीन देसी गाय कृषि मंत्री ओमप्रकाश धनखड़ के पास वर्ष 2016-2017 के दौरान एक लाख 98 हजार रुपये की जीवन बीमा पॉलिसी और एक इनोवा कार है। धनखड़ के पास तीन देसी गाय और उनके बछड़े हैं। धनखड़ ने 25 लाख रुपये से एक कारोबार शुरू किया था जिसे मंत्री बनने के बाद बंद कर दिया गया है।

हर साल कम हो रही कविता जैन की संपत्ति महिला एवं बाल विकास मंत्री कविता जैन की संपत्ति बढऩे की बजाय कम हो रही है। दिसंबर 2014 में कविता जैन की संपत्ति की कीमत जहां 2,45,45,000 रुपये थी, वहीं 31 मार्च 2015 को यह 2,40,44,274 रुपये रह गई। 31 मार्च 2016 को उनकी संपत्ति 2,39,57,741 रुपये बताई गई है।

कैप्टन अभिमन्यु ने दिया पाई-पाई का हिसाब वित्त मंत्री कैप्टन अभिमन्यु ने 31 मार्च 2016 को अपनी संपत्ति सार्वजनिक की। उनके बैंक, वित्तीय संस्थानों और गैर वित्तीय कंपनियों में 57,14,846 रुपये जमा हैं। उनकी 19,49,05,698 रुपये बांड व शेयर में लगे हैं। कैप्टन ने करीब एक करोड़ रुपये कर्ज के रूप में दे रखे। उनके नाम 1,82,99,277 रुपये के वाहन हैं और करीब 9 लाख रुपये के जेवर हैं। कैप्टन के नाम कृषि योग्य भूमि की कीमत 3,29,88,000 और गैर कृषि योग्य भूमि की कीमत 9,55,91,277 रुपये है। उनके आवासीय भवन की कीमत 11.75 करोड़ रुपये आंकी गई है।

अनिल विज पास 27 लाख लेकिन25 लाख के कर्ज में स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज के पास अपने खुद के 27,08,360 रुपये हैैं, लेकिन इससे दो लाख रुपये कम यानी 25 लाख रुपये के विज कर्ज में भी डूबे हुए हैैं। विज के नाम अंबाला छावनी और पंजाब के जीरकपुर में एक घर है।

58 करोड़ की संपत्ति के मालिक राव नरबीर पीडब्ल्यूडी मंत्री राव नरबीर ने 31 मार्च 2017 को अपनी कुल संपत्ति की कीमत 58,33,80,281 रुपये आंकी है। राव की कृषि योग्य भूमि की कीमत 34,60,85,000 रुपये है। उनके पास 5,53,93,000 रुपये की गृह संपत्ति और 21,04,01,862 रुपये की लिक्विड प्रापर्टी बताई गई है।

करोड़पति कृष्ण पंवार 66 लाख के कर्ज में इनेलो छोड़कर भाजपा में शामिल होकर मंत्री बने परिवहन मंत्री कृष्णलाल पंवार की कुल संपत्ति की कीमत एक करोड़ 17 लाख 50 हजार आंकी गई है, जबकि उनकी तरफ 66 लाख से अधिक का कर्ज है।

36.76 करोड़ के मालिक विपुल के पास पांच करोड़ की नकदी उद्योग मंत्री विपुल गोयल की चल संपत्ति की कुल कीम 36,76,65,222 रुपये है। अचल संपत्ति के नाम पर विपुल गोयल के पास दिल्ली, राजस्थान व हरियाणा में कृषि योग्य भूमि और कुछ व्यावसायिक बिल्डिंग हैैं। विपुल गोयल के पास कुल 5,04,05,941 रुपये की नकदी हैै।

मुनीष ग्रोवर के पास नहीं नकदी, जेवर की कीमत 6 लाख सहकारिता राज्य मंत्री मुनीष ग्रोवर के पास दिल्ली के रोहिणी में एक फ्लैट है। उसकी कीमत करीब 38 लाख रुपये है। ग्रोवर के पास करीब छह लाख रुपये कीमत के जेवर हैं।

कृष्ण बेदी का शाहबाद में 62 लाख का मकान सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता राज्य मंत्री कृष्ण कुमार बेदी के पास भी कुछ खास नहीं है। उनका शाहबाद में एक मकान है, जिसकी कीमत 62 लाख रुपये बताई गई है।

कर्णदेव कांबोज के पास पेट्रोल पंप व एक करोड़ की प्रापर्टी खाद्य एवं आपूर्ति राज्य मंत्री कर्णदेव कंबोज जहां एक पेट्रोल पंप के मालिक हैं, वहीं उनके पास कृषि योग्य जमीन तथा वाणिज्यिक भवन भी है। उनकी कीमत एक करोड़ 18 लाख 50 हजार रुपये है।

करीब पौने दो करोड़ की संपत्ति के मालिक बनवारी लाल जनस्वास्थ्य एवं अभियांत्रिकी राज्य मंत्री बनवारी लाल की चल संपत्ति की कीमत 65 लाख 38 हजार 188 रुपये है। उनके पास एक करोड़ 13 लाख 38 हजार रुपये की अचल संपत्ति भी है।

नायब सैनी के पास मात्र 23.54 लाख रुपये श्रम एवं रोजगार राज्य मंत्री नायब सैनी के पास नकदी और बैंक में जमा कुल राशि जहां 23.54 लाख रुपये है। वहीं अंबाला जिले में एक स्टोन क्रेशर और हिमाचल में एक बंद पड़ा स्टोन क्रेशर भी है। नारायणगढ़ में केबल के कारोबार में उनकी पार्टनरशिप भी है।

हर साल बढ़ रही राव नरबीर की प्रापर्टी पीडब्ल्यूडी मंत्री राव नरबीर की संपत्ति में हर साल वृद्धि हो रही है। 31 मार्च 2015 को राव ने अपनी संपत्ति की कुल कीमत 42,46,22,144 रुपये बताई। 31 मार्च 2016 को यह 43,53,64,652 रुपये हुई। 31 मार्च 2017 को राव की संपत्ति की कुल कीमत 58,33,80,281 रुपये आंकी गई है।

——

-कैप्टन अभिमन्यु, विपुल गोयल व राव नरबीर के पास सबसे ज्यादा संपत्ति।

– मुख्यमंत्री किसी के कर्जदार भी नहीं, धनखड़ सबसे कम संपत्ति के मालिक।

– अमीरी के मामले में पत्नियों के आगे फीके पड़ रहे सरकार के मंत्री।

– तीन मंत्री कर्ज में, राव की संपत्ति बढ़ रही और कविता जैन की हो रही कम।

यह खबर आप हिन्दी रोजगार समाचारपत्र  दैनिक एक्स्प्रेस वेबसाइट के द्वारा पढ़ रहे है।

कृप्या अगर आपको हमारी यह पोस्ट पसंद आए तो ज्यादा से ज्यादा शेयर एवम् लाइक करे:-www.fb.com/dainikexpress

हम खबरें छिपाते नहीं छापते है।

 

Filed in: News

No comments yet.

Leave a Reply

*

error: Content is protected !!