6:55 pm - Thursday April 19, 2018

मुख्यमंत्री की घोषणा के बावजूद नहीं मिल रहा बढ़ा हुआ वेतन, टीचर उतरेंगे सड़कों पर

प्रदेश भर के कंप्यूटर टीचर्स और लैब सहायक अपने वेतनमान को लेकर पिछले कई सालों से संघर्ष कर रहे हैं। बीते दिनों कंप्यूटर टीचर्स और लैब सहायकों की सीएम के साथ हुई बैठक में हल निकलने के आसार नज़र आ रहे थे लेकिन, शिक्षा विभाग ने एक बार फिर से 5000 कर्मचारियों को बढ़ा हुआ वेतन देने की बजाय पुराना वेतन ही जारी कर दिया।

शिक्षा विभाग की ओर से जारी जनवरी माह के वेतन के बाद कंप्यूटर टीचर्स और लैब सहायक संघ ने 2 अप्रैल को सामूहिक रूप से पंचकूला में शिक्षा सदन के घेराव का ऐलान कर दिया है।
गौरतलब है कि 20 दिसंबर को सीएम मनोहर लाल ने कंप्यूटर टीचर्स और लैब सहायकों के साथ आधिकारिक बैठक की थी। बैठक के बाद सीएम ने जनवरी 2018 से कंप्यूटर टीचर्स को 10 हजार की जगह पीआरटी स्केल 21715 रुपये और लैब सहायकों को 6 हजार की जगह स्किल्ड वेतन 11429 रुपये प्रति माह देने की घोषणा की थी।
कंप्यूटर शिक्षक संघ के अध्यक्ष बलराम धीमान ने शिक्षा विभाग पर सीएम के आदेशों का ना मानने का आरोप लगाया है। उन्होंने कहा कि 1 जनवरी से बढ़ा हुआ वेतन मिलना था लेकिन, वेतन बढ़ाने की बजाय पहले से भी घटाकर दिया गया जिसमें सर्दियों की छुट्टियों के पैसे भी काट लिए गए।

यह खबर आप हिन्दी रोजगार समाचारपत्र  दैनिक एक्स्प्रेस वेबसाइट के द्वारा पढ़ रहे है।

कृप्या अगर आपको हमारी यह पोस्ट पसंद आए तो ज्यादा से ज्यादा शेयर एवम् लाइक करे:-www.fb.com/dainikexpress

हम खबरें छिपाते नहीं छापते है।

 

Filed in: News

No comments yet.

Leave a Reply

*

error: Content is protected !!