5:04 pm - Friday December 9, 2016

Exam Preparation Tips in Hindi

Tips to Study Better and Examination Preparation Tips in Hindi How To Get Good Marks in Exam Tips in Hindi

शरीर की तरह आपके दिमाग को भी बेहतर काम करने के लिए व्यवस्थित रहना जरूरी है। इसके लिए कुछ टिप्स दिए जा रहे हैं। इनसे न सिर्फ आपका दिमाग तेज गति से काम करने लगेगा, बल्कि परीक्षा के लिए किसी भी पाठ को याद रखना आसान हो जाएगा।

परीक्षा की तैयारी कैसे करें ! Exam Preparation Tips in Hindi

  • परीक्षा प्रारंभ होने के कुछ महीने पहले से ही पढ़ना शुरू कर देना चाहिए। पहली बार पढ़ने से भी ज्यादा महत्वपूर्ण होता है दोहरान करना इसलिए रिवीजन के लिए पर्याप्त समय दें।
  • जिन विषयों की परीक्षा बाद में है उन्हें पहले पढ़ना चाहिए ताकि आखिरी दिनों में वह विषय पढ़े जा सके जिनका एग्जाम सबसे पहले है। इसके लिए टाइम टेबल बना लें।
  • पूर्व वर्षों के प्रश्न पत्रों को हल करना चाहिए। इससे परीक्षा का पैटर्न समझने में मदद मिलती हैं।
  • स्टडी रूम व्यवस्थित होना चाहिए। कुर्सी आरामदायक होनी चाहिए। स्टडी टेबल पर अलार्म घड़ी रखी होनी चाहिए। स्टडी रूम में मोटिवेशनल चार्ट लगे होने चाहिए। रोशनी की उचित व्यवस्था होनी चाहिए।
  • परीक्षा के दिनों में तनाव का माहौल रहता है। तनाव को दूर करने और एकाग्रता बढ़ाने के लिए योग, व्यायाम आदि का सहारा लें और पर्याप्त मात्रा में नींद लें।
  • परीक्षा के दिनों में ऐसा भोजन लिया जाना चाहिए जो सात्विक हो और पोषण से भरपूर हो। रात का खाना जल्दी खा लेना चाहिए। थोड़े-थोड़े अंतराल में पानी पीते रहना चाहिए।
  • हाथ-पैर और मुंह धोकर पढ़ने बैठना चाहिए।
  • खुश और तनावमुक्त रहें। सकारात्मक सोच रखें। परीक्षा को हौवा ना बनाये और आत्मविश्वास बनाये रखें।
  • एग्जाम किट में पेंसिल और पेन के साथ रंगबिरंगे जेल पेन भी रखें। ये आपको जवाब को हाईलाइट करने और चित्र बनाने में मदद करेंगे।
  • एग्जाम हॉल में बिना किसी डर के पूरी ऊर्जा और पॉजिटिव सोच के साथ प्रवेश करें।
  • प्रश्न पत्र पढ़ने में जल्दबाजी ना करें। धैर्य से काम लें। पेपर और कॉपी पर लिखे गए निर्देशों को ध्यान से पढ़ें। अगर कोई संदेह है तो टीचर से पूछ लें।
  • साफ़-सुथरी राइटिंग में लिखने का प्रयास करें। ताकि परीक्षक को कॉपी पढ़ने में दिक्कत ना आये। कई बार गन्दी राइटिंग की वज़ह से भी नंबर कम आते हैं।
  • प्रश्नों के उत्तर में चित्रों, आंकड़ों और रेखांकन आदि का उपयोग करें। इससे उत्तर आकर्षक और प्रभावी बन जाता है।
  • पेज भरने की बजाय सभी प्रश्नों का स्पष्ट और सटीक जवाब लिखें।

परीक्षा का भय :- कई विद्यर्थियों को परीक्षा के बारे में सोचकर ही बेचैनी महसूस होने लगती है। मन में कई विचार घूमने लगते हैं, -‘क्या मैं सभी प्रश्नों का उत्तर दे पाउंगा?’ ‘थोड़ा और पढ़ लेता तो अच्छा होता’आदि। ये विचार लगभग हर विद्यार्थी को परेशान करते हैं। थोड़ा-बहुत दबाव बेहतर प्रदर्शन के लिए मददगार होता है। इससे शरीर में एड्रिनलिन हारमोन स्त्रावित होता है जो व्यक्ति को सचेत और फोकस्ड बनाए रखता है।

परीक्षा के दौरान :- ‘मुझे कुछ नहीं आता’। पढ़ाई नहीं की हो तो ये ख्याल परेशान कर सकता है लेकिन अच्छे से पढ़ने पर भी ऐसे विचार उत्पन्न होना घबराहट के संकेत हैं। तनाव के कारण विद्यार्थी ध्यान केंद्रित नहीं कर पाते। कई तो प्रश्न भी ठीक से नहीं पढ़ पाते हैं। इससे बचने के लिए ये उपाय कर सकते हैं-

  • परीक्षा कक्ष में सही समय पर पहुंचें।-
  • कक्ष में पहुंचकर लंबी-गहरी सांसें लें और छोड़ें। घबराहट में अक्सर लोग ठीक से सांस नहीं लेते हैं। गहरी सांस लेते हुए अपनी पीठ एकदम सीधी कर लें।
  • आपके सामने रखी किसी स्थिर निर्जीव वस्तु (दीवार, तस्वीर, आदि) की ओर देखकर ध्यान केंद्रित करने का प्रयास करें।
  • मन में कोई सकारात्मक बात दोहराएं जैसे – मैं ये परीक्षा पास करने वाला हूं। 1-2 मिनिट तक यही दोहराते रहें और फिर सामान्य रुप से सांस लें। शांति अनुभव करेंगे।
  • प्रश्नों को ध्यान से पढ़ें। यदि परीक्षा के बीच बीच फिर से घबराहट होने लगे तो फिर से एकाग्रता के उपाय दोहराएं।
  • प्रश्नपत्र सॉल्व करने की रणनीति तय कर लें। कौनसे प्रश्न पहले सॉल्व करेंगे आदि और बिना समय बर्बाद किए उत्तर लिखना शुरु कर दें।

याददाश्त के टिप्स :- किसी भी बात को याद रखने के लिए दिमाग उस बात का अर्थ मूल्य और औचित्य के आधार पर तय करता है। दिमाग की प्राथमिकता भी इसी क्रम में काम करती है। याद रखने की सबसे पहली सीढ़ी है अर्थ जानना, अतः किसी भी बात को याद रखने से उसका अर्थ जरूर समझिए।

Filed in: Exam Guide

No comments yet.

Leave a Reply

*
error: Content is protected !!