6:08 am - Friday December 15, 2017

आखिर बुद्धिमान हरियाणवी बेरोजगार बच्चों पे भारी पड़ा 25 मार्क्स का इंटरव्यू

भ्रष्टाचार पर लगाम के लिए छोटी नौकरियों में इंटरव्यू समाप्त हों: माननीय प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी भारत सरकार 

मोदी ने स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर देश के नाम अपने संदेश में कहा था, गरीब के बच्चे का जब नौकरी के लिए इंटरव्यू का समय आता है तब वह पैरवी ढूंढता है। वह सोचता है कि सिफारिश के लिए किसके पास जाउं। मेरिट की बजाए इंटरव्यू के कारण व्यक्ति के साथ न्याय अन्याय होता है।

उदाहरण :- 

हरियाणा स्‍टाफ सिलेक्‍शन कमीशन  25 मार्क्स साक्षात्कार की योजना रंग ला रही है।

 

यह खबर आप हिन्दी रोजगार समाचारपत्र दैनिक एक्स्प्रेस वेबसाइट के द्वारा पढ़ रहे है।

कृप्या अगर आपको हमारी यह पोस्ट पसंद आए तो ज्यादा से ज्यादा शेयर एवम् लाइक करे:-www.fb.com/dainikexpAress

हम खबरें छिपाते नहीं छापते है।

Filed in: Jobs

No comments yet.

Leave a Reply

*

error: Content is protected !!