3:29 pm - Wednesday June 19, 7348

हरियाणा मंत्रिमंडल की बैठक में कॉन्सटेबल और सब इंस्पेक्टर की भर्ती में लिया गया बड़ा फैसला

चंडीगढ़, 27 फरवरी- हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल की अध्यक्षता में आज यहां हुई मंत्रिमंडल की बैठक में कॉन्सटेबल और सब इंस्पेक्टर की सीधी भर्ती के मामले में अतिरिक्त योग्यता (10 प्रतिशत वेटेज) और विविध (10 प्रतिशत वेटेज) को शामिल करने और साक्षात्कार समाप्त करने के लिए पंजाब पुलिस नियमों, 1934 के नियम 12.16 में संशोधन करने के गृह विभाग के प्रस्ताव को मंजूरी दी गई।
इन संशोधित नियमों को पंजाब पुलिस (हरियाणा संशोधन) नियम, 2018 कहा जाएगा। संशोधन के अनुसार, कॉन्सटेबल के रैंक की सभी रिक्तियों को और सब इस्पेक्टर के रैंक में कुल पदों में से 50 प्रतिशत (अस्थायी और स्थायी दोनों) पदों को सीधी भर्ती द्वारा हरियाणा कर्मचारी चयन आयोग के माध्यम से भरा जाएंगे। सीधी भर्ती से भरी जाने वाली रिक्तियों में से तीन प्रतिशत रिक्तियों को उत्कृष्टï खिलाडिय़ों से भरा जाएगा। हरियाणा कर्मचारी चयन आयोग अपनी सहायता के लिए समय-समय पर एक या एक से अधिक तकनीकी विशेषज्ञों का सह-चुनाव कर सकता है जैसे कि सहायक या सेवानिवृत्त पुलिस अधिकारी, जोकि पुलिस अधीक्षक, मनोविज्ञानिक, डॉक्टर, विषय विशेषज्ञों के पद से नीचे के नहीं होंगे। ये विशेषज्ञ अपने सम्बन्धित क्षेत्र में कम से कम 10 वर्ष का अनुभव रखने वाले प्रतिष्ठित व्यक्ति होंगे।
हरियाणा कर्मचारी चयन आयोग अन्य बातों के साथ-साथ ऑन-लाइन आवेदन प्राप्त करने, प्रसंस्करण करने और परिणाम तैयार करने सहित समस्त चयन प्रक्रिया को प्रबंधित करने के लिए कंप्यूटर आधारित प्रबंधन सूचना प्रणाली को बनाए रखने के लिए जिम्मेदार होगा ।
जब भी सीधी भर्ती के लिए पर्याप्त संख्या में रिक्तियां होंगी, पुलिस महानिदेशक, राज्य सरकार के अनुमोदन के बाद, हरियाणा कर्मचारी चयन आयोग को मांग भेजेंगे। पुलिस महानिदेशक से मांग प्राप्त होने पर, हरियाणा कर्मचारी चयन आयोग राज्य में कम से कम दो प्रमुख दैनिक समाचार पत्रों जिनमें से एक हिंदी और दूसरा अंग्रेजी में होगा, में आवेदन जमा करने की आखिरी तिथि से कम से कम 15 दिन पहले रिक्तियों को अधिसूचित करेगा।

यदि किसी अभ्यार्थी के खिलाफ एफआईआर दर्ज या लंबित है और अगर उसके विरुद्ध आरोप तय किए गए हैं तो उसे आवेदन के लिए योग्य नहीं माना जाएगा।
निर्धारित शुल्क के साथ आवेदन ऑनलाइन प्राप्त लिए जाएंगे। उम्मीदवारों द्वारा ऑनलाइन जमा की गई जानकारी अंतिम होगी। रोल नंबर पात्र उम्मीदवारों को आवंटित किया जाएगा और हरियाणा कर्मचारी चयन आयोग की आधिकारिक वेबसाइट पर डाल दिया जाएगा। रोल नंबर आवंटित किए जाने के बाद उम्मीदवार चयन की प्रक्रिया में शामिल होने के लिए तैयार होगा। नॉलेज टेस्ट का 80 प्रतिशत वेटेज होगा। सभी उम्मीदवारों को 80 अंकों का नॉलेज टेस्ट देना होगा, जिसमें विषयनिष्ठï और बहु विकल्प वाले प्रश्न शामिल होंगे। नॉलेज टेस्ट विषयनिष्ठï प्रकार का होगा जिसमें 100 बहु विकल्प वाले प्रश्न होंगे, जिनमें प्रत्येक के 0.80 अंक होंगे और 90 मिनट की अवधि होगी। प्रत्येक सही उत्तर में 0.8 अंक मिलेगा, गलत उत्तर के लिए कोई नकारात्मक अंकन नहीं होगा। यह सभी उम्मीदवारों के लिए एक साथ आयोजित होगी। जहां उम्मीदवारों की अंग्रेजी भाषा का ज्ञान परीक्षण किया जाना है उसे छोडक़र परीक्षा का माध्यम हिंदी होगा ।
परीक्षा के पेपर में सामान्य अध्ययन, सामान्य विज्ञान, वर्तमान मामलों, सामान्य तर्क, मानसिक योग्यता, संख्यात्मक क्षमता, कृषि, पशुपालन, अन्य संबंधित क्षेत्रों/ टे्रड पर सवाल शामिल होंगे। कंप्यूटर के बुनियादी ज्ञान से संबंधित कम से कम 10 प्रश्न होंगे। प्रश्न का स्तर कॉन्स्टेबल पद के लिए हरियाणा के स्कूल शिक्षा बोर्ड के 10 जमा दो परीक्षा और सब इस्ंपेक्टर के पद के लिए मान्यताप्राप्त विश्वविद्यालय से स्नातक की उपाधि प्राप्त शिक्षित व्यक्ति की अनुमानित योग्यता जैसा होगा।

प्रश्नपत्रों के समान सेट की एक से अधिक भिन्न-भिन्न श्रृंखलाएं होंगी और परीक्षा हॉल में दो निकटवर्ती उम्मीदवारों को नकल करने से रोकने के लिए प्रश्नपत्रों की एक ही श्रृंखला नहीं होगी। उत्तर पत्रक ऑप्टिकल मार्क मान्यता (ओएमआर) के लिए डिज़ाइन किया जाएगा । दोहरी उत्तर पुस्तिका हेतु कार्बन रहित पेपर इस्तेमाल किया जाएगा। ज्ञान परीक्षा समाप्त होने के बाद उम्मीदवार डुप्लिकेट प्रति अपने साथ ले जा सकेंगे। विभिन्न परीक्षा केंद्रों पर मुहरबंद प्रश्नपत्रों और ऑप्टिकल मार्क रिकॉग्निशन शीट्स के वितरण की प्रक्रिया हरियाणा कर्मचारी चयन आयोग द्वारा तय की जाएगी। प्रतिरूपण से बचने के लिए उम्मीदवार ऑप्टिकल मार्क रिकॉग्निशन (ओएमआर) शीट पर अपने अंगूठे का छाप भी लगाएगा।

ज्ञान परीक्षा के बाद हरियाणा कर्मचारी चयन आयोग की आधिकारिक वेबसाइट पर उत्तर कुंजी को सार्वजनिक किया जाएगा।
प्रत्येक वर्ग में रिक्तियों की संख्या में सात गुना के बराबर उम्मीदवारों को नॉलेज टेस्ट में उत्तीर्ण घोषित किया जाएगा। जिन उम्मीदवारों ने नॉलेज टेस्ट में योग्यता प्राप्त की है उनका एक शारीरिक स्क्रीनिंग टेस्ट किया जाएगा जो कि केवल उनकी शारीरिक फिटनेस और सहनशक्ति की जांच करेगा। इस परीक्षा के निर्धारित मानकों के अनुसार, पुरुष उम्मीदवार को 12 मिनट के क्वालीफाइंग समय में 2.5 किलोमीटर की दूरी तय करनी होगी। महिला उम्मीदवार के मामले में, परीक्षण दूरी एक किलोमीटर और योग्यता का समय छह मिनट होगा। इसके अलावा, पूर्व सैनिकों के मामले में, एक किलोमीटर के परीक्षण की दूरी के लिए पांच मिनट का क्वालीफाइंग समय होगा।
उम्मीदवार, जो शारीरिक स्क्रीनिंग टेस्ट के लिए निर्धारित मानकों को पूरा करने में विफल रहते हैं, वे आगे की चयन प्रक्रिया में भाग नहीं ले सकेंगे। केवल वे उम्मीदवार जो शारीरिक स्क्रीनिंग टेस्ट के लिए निर्धारित मानकों की अर्हता प्राप्त करेंगे उन्हें ही चयन की अगली प्रक्रिया में भाग लेने की अनुमति होगी। शारीरिक स्क्रीनिंग टेस्ट में उत्तीर्ण करने वाले उम्मीदवारों को निर्धारित मानकों के अनुसार शारीरिक मापन टेस्ट से गुजरना होगा।

कॉन्स्टेबल के मामले में, शैक्षणिक योग्यता के अधिकतम सात अंक होंगे। किसी मान्यताप्राप्त विश्वविद्यालय से किसी भी संकाय में स्नातक की डिग्री के साथ उच्च शिक्षा वाले उम्मीदवारों को चार अंक प्राप्त होंगे, जबकि मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से किसी भी संकाय में स्नातकोत्तर उपाधि के उम्मीदवार अतिरिक्त तीन अंक प्राप्त करेंगे। इसी प्रकार, उप-निरीक्षक के लिए, शैक्षणिक योग्यता के सात अंक होंगे। कानून, कंप्यूटर इंजीनियरिंग/विज्ञान, फॉरेंसिक मेडीसिन, फॉरेंसिक विज्ञान, पुलिस विज्ञान और क्रिमिनोलॉजी (एक विशेष डिग्री प्राप्त करने के लिए 10 जमा दो के बाद 4 या इससे अधिक वर्ष लगते है) में स्नातक डिग्री की उच्च शिक्षा वाले उम्मीदवारों को चार अंक दिए जाएंगे। उपर्युक्त संकायों में से किसी भी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से स्नातकोत्तर उपाधि के लिए अतिरिक्त तीन अंक होंगे।

उपरोक्त के अलावा किसी भी अन्य संकाय में स्नातकोत्तर डिग्री वाले उम्मीदवारों को अतिरिक्त अंक नहीं मिलेगा। हालांकि, उपरोक्त वर्णों के अलावा अन्य संकायों में एम.फिल या पीएचडी की डिग्री वाले उम्मीदवारों को अतिरिक्त तीन अंक मिलेंगे। एनसीसी प्रमाणपत्र में अधिकतम तीन अंक होंगे। ए, बी या सी स्तर के एनसीसी प्रमाणपत्र वाले उम्मीदवारों को दोनों, कॉन्स्टेबल्स और सब इंस्पेक्टर के लिए क्रमश 01, 02 और 03 अंक मिलेंगे।

विविध (मिस्लेनियस) के रूप में,10 प्रतिशत वेटेज होगा। यदि आवेदक के पिता, माता, पति या पत्नी, भाई, बहन, बेटे और बेटी में से कोई भी व्यक्ति हरियाणा सरकार या किसी अन्य राज्य सरकार या भारत सरकार के किसी भी विभाग, बोर्ड, निगम, कंपनी, वैधानिक निकाय , आयोग या प्राधिकरण में नियमित कर्मचारी नहीं है तो उसे इसमें से पांच अंक दिए जाएंगे।
अनाथ या विधवा के मामले में पांच अंक दिए जाएंगे अर्थात यदि आवेदक एक विधवा है या मृतक का पहला या दूसरा बच्चा है, जिसका पिता 42 वर्ष की आयु के पूरा होने से पहले मर गया है। इसी तरह, अगर आवेदक एक प्रथम या द्वितीय बालक है और 15 वर्ष की आयु पूरी करने से पहले उसके पिता की मृत्यु हो गई थी। अगर आवेदक ऐसी विमुक्त जाति, टपरीवास जाति या घुमन्तू जनजाति से है जोकि अनुसूचित जाति और पिछड़े वर्ग में शामिल नहीं है को पांच अंक दिए जाएंगे। एडहॉक या अनुबंध कर्मचारी के रूप में अनुभव के लिए अधिकतम आठ अंक रखे गए है। किसी भी परिस्थिति में किसी भी आवेदक को दस अंकों से अधिक अंक नहीं दिए जाऐंगे।

आरक्षण के लाभ और/ या छूट का दावा केवल उन उम्मीदवारों के लिए स्वीकार्य होगा, जो अपने दावे के समर्थन में अपने आवेदन के साथ जांच के लिए अपेक्षित वैध मूल प्रमाण पत्र प्रस्तुत करते हैं अन्यथा उन्हें सामान्य वर्ग के तहत माना जाएगा। इस संबंध में जानकारी हरियाणा कर्मचारी चयन आयोग की आधिकारिक वेबसाइट पर प्रदर्शित की जाएगी।

ज्ञान टेस्ट, अतिरिक्त योग्यता और विविध में उनके द्वारा हासिल कुल अंक के आधार पर योग्यता के क्रम में सफल अभ्यर्थियों के नाम हरियाणा कर्मचारी चयन आयोग द्वारा अलग से प्रत्येक श्रेणी के लिए विज्ञापित रिक्तियों की कुल संख्या के बराबर के आधार पर व्यवस्थित किए जाऐंगे । यदि दो या अधिक उम्मीदवारों के कुल अंक बराबर है तो योग्यता का क्रम ज्ञान टेस्ट में प्राप्त उच्चतम स्कोर से निर्धारित किया जाएगा।

जबकि दो या दो से अधिक उम्मीदवारों के कुल अंक और साथ ही ज्ञान टेस्ट में भी बराबर अंक होने पर योग्यता का क्रम उम्मीदवार की उम्र के अनुसार निर्देशित किया जाएगा अर्थात बड़ी आयु वाले को कम आयु वाले से ऊपर रखा जाएगा।
इसके अलावा जहां दो या दो से अधिक उम्मीदवारों के कुल अंक, नॉलेज टेस्ट में उनका स्कोर और उनकी जन्मतिथि भी एक समान है तो उच्च शैक्षणिक योग्यता वाले उम्मीदवारों को योग्यता के क्रम में ऊपर रखा जाएगा।

हरियाणा कर्मचारी चयन आयोग प्रत्येक श्रेणी में मांग की गई कुल रिक्त पदों के बराबर सफल उम्मीदवारों के नामों की पुलिस महानिदेशक को सिफारिश करेगा। इस प्रकार सिफारिश किए गए उम्मीदवारों की सूची को भी हरियाणा कर्मचारी चयन आयोग और हरियाणा पुलिस की आधिकारिक वेबसाइटों पर लगाया जाएगा।
विशेष भर्ती के मामले में अनुकम्पा योजना के तहत मृतक पुलिस अधिकारियों के बच्चों की कांस्टेबल के रूप में नियुक्ति पर भर्ती की उपरोक्त प्रक्रिया लागू नहीं होगी। यह हरियाणा पुलिस के विशेष विंग जैसे कि दूर संचार विंग, हरियाणा पुलिस कमांडो फोर्स, राज्य अपराध रिकॉर्ड ब्यूरो, बैंड और बिगुलर स्टाफ, घुड़सवार पुलिस, डोग स्कॉड, साइबर सेल में कॉन्स्टेबल की भर्ती के लिए भी लागू नहीं होगी।

यह खबर आप हिन्दी रोजगार समाचारपत्र  दैनिक एक्स्प्रेस वेबसाइट के द्वारा पढ़ रहे है।

कृप्या अगर आपको हमारी यह पोस्ट पसंद आए तो ज्यादा से ज्यादा शेयर एवम् लाइक करे:-www.fb.com/dainikexpress

हम खबरें छिपाते नहीं छापते है।

 

Filed in: Jobs, News

No comments yet.

Leave a Reply

*

error: Content is protected !!