6:30 pm - Wednesday October 18, 2017

फिशरमैन भर्ती विवाद: कोर्ट के नोटिस पर विभाग ने चयन कमेटी से मांगा जवाब

मछली पालन विभाग में फिशरमैन की भर्ती पर हाईकोर्ट के नोटिस का जवाब देने के लिए विभाग ने चयन कमेटी के सदस्यों से जवाब मांगा है। कोर्ट ने मंत्री, विभाग, चयन कमेटी और चुने गए उम्मीदवारों को नोटिस जारी कर जवाब मांगा है। भर्ती पर कुछ उम्मीदवारों ने एतराज जताते हुए याचिका दायर की है। 13 जनवरी को सुनवाई होगी।

फिशरमैन की भर्ती ग्रुप डी में आती है। इसे स्टाफ सेलेक्शन कमिशन या कोई एजेंसी नहीं बल्कि विभाग ही उम्मीदवारों का चयन करता है। चयन में 90 अंकों का टेस्ट था। इसमें जाल बुनना, जाल फेंकना, मछलियों की पहचान और तैराकी आनी चाहिए थी। इसके लिए प्रेक्टिकल टेस्ट लिया जाता है। 10 नंबर इंटरव्यू के रखे गए थे। 90 से 97 पोस्ट करने के पीछे भी तैयार किया तर्क : याचिकाकर्ता का आरोप है कि पद भी 90 से 97 कर दिए गए। इसके जवाब में विभाग ने जवाब में तर्क तैयार किया है। इसमें कहा गया कि जब भर्ती का विज्ञापन निकाला गया तो इसमें इस बात को लिखा गया था कि तय पदों की संख्या बढ़ाई या कम की जा सकती है।

चुने गए कई उम्मीदवार पहले ही कांट्रेक्ट पर कर रहे थे काम :- जवाब में इस बात को भी शामिल किया जा रहा है कि कई उम्मीदवार तो इस भर्ती में वह शामिल हुए जो पहले ही विभाग में इसी पद पर कांट्रेक्ट पर काम कर रहे थे। वे तो पहले से ही तय मापदंड में पारंगत थे, इसलिए टेस्ट को अच्छे से क्वालिफाई कर गए हैं। याचिकाकर्ता उम्मीदवार ने आरोप लगाया कि बाहर के कुछ आवेदकों को कुरुक्षेत्र में प्रशिक्षित किया गया है।

Filed in: Jobs, News

No comments yet.

Leave a Reply

*

error: Content is protected !!