3:11 pm - Saturday November 22, 7777

MPHW की भर्ती को भूली सरकार : प्रदीप गहलावत

जल्द भर्ती न होने पर करेंगे आमरण अनशन

रोहतक, 10 अक्तूबर। प्रदेश के स्वास्थ्य विभाग में पिछले 7 साल से लम्बित एमपीएचडब्ल्यू (मेल) के 1024 पदों की भर्ती प्रक्रिया को पूरा करवाने की मांग को लेकर बेरोजगार एमपीएचडब्ल्यू ने आज स्थानीय हुडा सिटी पार्क में एक बैठक का आयोजन किया गया। जिसमें रोहतक, झज्जर व सोनीपत के बेरोजगार एमपीएचडब्ल्यू उम्मीदवारों ने अपनी उपस्थिति दर्ज करवाई। बैठक की अध्यक्षता रोहतक के प्रधान प्रदीप गहलावत ने की। उन्होंने बताया कि यह भर्ती 2011 से लटकी हुई है। इस भर्ती को लेकर परीक्षा हो चुकी है। जिसका परिणाम भी जारी हो चुका है। इसके पश्चात दस्तावेज जांच हुई जिसमें एक उम्मीदवार के उपस्थित न होने के कारण उस उम्मीदवार ने कोर्ट में केस करके 2 जून को भर्ती पर स्टे ले लिया। उस उम्मीदवार के 6 जुलाई को एचएसएसएस द्वारा दस्तावेज जांच करवा ली गई किंतु फिर भी एचएसएससी के वकील 4 अक्टूबर को कोर्ट की तारीख पर नहीं पहुंचे जिसके कारण कोर्ट ने अगली तारीख 23 जनवरी की दे दी। इससे सरकार की मंशा भर्ती को पूरा करने की नजर नहीं आ रही। सरकार अपने विज्ञापनों में जोर-शोर से यह घोषणा कर रही है कि 2022 तक हरियाणा को मलेरिया व डेंगू मुक्त किया जायेगा। किंतु दूसरी तरफ सच्चाई यह है कि विभाग में 70 प्रतिशत पद खाली पड़े हैं। जिसके कारण रोजाना डेंगू व मलेरिया के मरीजों की संख्या बढ़ रही है।

बैठक में फैसला लिया गया कि जल्द ही मुख्यमंत्री व स्वास्थ्य मंत्री से मिलकर भर्ती को पूरा करवाने की मांग की जाएगी। फिर भी यदि भर्ती पर कोई कार्यवाही नहीं होती है तो स्वास्थ्य मंत्री के आवास पर आमरण अनशन किया जायेगा। जिसकी जिम्मेवार स्वयं सरकार होगी। आज की बैठक में सोमबीर, ओम दलाल, महीपाल सिंह, संदीप आदि ने भी संबोधित किया।

 

यह खबर आप हिन्दी रोजगार समाचारपत्र दैनिक एक्स्प्रेस वेबसाइट के द्वारा पढ़ रहे है।

कृप्या अगर आपको हमारी यह पोस्ट पसंद आए तो ज्यादा से ज्यादा शेयर एवम् लाइक करे:-www.fb.com/dainikexpress

हम खबरें छिपाते नहीं छापते है।

Filed in: Jobs

No comments yet.

Leave a Reply

*

error: Content is protected !!