3:49 pm - Monday June 26, 2017

BJP सरकार ने नकल रोकने के लिए निकाला नायाब तरीका, संभल जाएं स्टूडेंट्स

भाजपा सरकार ने 10वीं और 12वीं बोर्ड एग्जाम में नकल रोकने के लिए बड़ा ही नायाब तरीका निकाला है, जो कईयों पर भारी पड़ सकता है। दरअसल, हरियाणा सरकार बोर्ड परीक्षाओं में बेशुमार नकल होने का दाग मिटाने के लिए अहम कदम उठाने जा रही है।

स्कूल शिक्षा विभाग ने 10वीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षाओं में नकल का रैकेट तोड़ने के लिए इस बार बीते वर्षों की तुलना बेहद कड़े प्रबंध करेगी। मार्च के पहले सप्ताह शुरू होने वाली परीक्षाओं में नकल रोकने के लिए विभाग, स्कूल शिक्षा बोर्ड से अलग अपनी तैयारी कर रहा है।

प्रदेश के सभी जिलों के लिए व्हाट्स एप नंबर जारी किए जाएंगे, इन पर छात्रों के अभिभावकों के अलावा कोई भी नकल को लेकर शिकायत या वीडियो क्लिप डाल सकता है। क्लिप में नकल की पुष्टि होने पर केंद्र अधीक्षक को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया जाएगा। स्कूल शिक्षा विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव पीके दास ने इसकी पुष्टि की है।

डीसी को भी मिलेगी छापा मारने की जिम्मेवारी

पीके दास ने बताया कि केंद्र के जिस कमरे में नकल कराई जा रही होगी, वहां ड्यूटी पर तैनात शिक्षक भी निलंबित होंगे। उन्होंने कहा कि नकल के हर साल कई मामले सामने आने पर शिक्षा विभाग की छवि को धक्का पहुंच रहा है। इस बार उन्होंने नकल रोकने के लिए कई विशेष कदम उठाने का निर्णय लिया है। यह पहली बार होगा, जब केंद्र अधीक्षकों को लॉटरी के जरिए स्कूल आवंटित किए जाएंगे।

स्कूल शिक्षा बोर्ड या शिक्षक की मर्जी से स्कूल आवंटित नहीं होगा। हालांकि, स्कूल जिले के भीतर ही दिए जाएंगे। वे खुद भी औचक निरीक्षण करेंगे और मुख्यमंत्री मनोहर लाल से बातचीत कर सभी जिलों के डीसी को भी परीक्षा केंद्रों पर छापामारी करने की जिम्मेदारी देने का आग्रह किया जाएगा। हरियाणा में हर साल पांच हजार से अधिक अनफेय मीन्स केस (यूएमसी) बनते हैं।

17-18 को गुरुग्राम में लेंगे बैठक :- पीके दास ने बताया कि 17-18 फरवरी को वह गुरुग्राम में नकल रोकने को लेकर रणनीति तैयार करेंगे। बैठक में सभी डीईओ और बीईओ को उपस्थित रहने के निर्देश दिए गए हैं। स्कूल शिक्षा बोर्ड के चेयरमैन को भी बैठक में बुलाया गया है। सभी से सुझाव लेकर अन्य उपायों के जरिए भी नकल रोकी जाएगी। उन्होंने कहा कि नकल रोकने की शिकायत सही पाए जाने पर किसी को बख्शा नहीं जाएगा।

Filed in: Education News

No comments yet.

Leave a Reply

*

error: Content is protected !!