6:26 pm - Wednesday October 18, 2017

HSSC पेपर लीक मामला: CIA के शिकंजे में PTI

एच.एस.एस.सी. की परीक्षा के दौरान भिवानी में लीक हुए पेपर की आंच पानीपत तक भी पहुंची जहां परीक्षा के दौरान पूरे हरियाणा व पुलिस तंत्र में हड़कम्प मचा रहा, वहीं बाद में जांच टीम ने पानीपत के मॉडल टाऊन स्थित करुणा मोंटेसरी स्कूल में बनाए गए परीक्षा केंद्र में नियुक्त पी.टी.आई. को भी पेपर लीक करने के आरोप में धर दबोचा। पुलिस की टीमें अलग-अलग जगह जांच कर रही हैं।

परीक्षा केंद्र से पेपर की फोटो लेकर व्हाट्सअप द्वारा भिवानी भेजने के आरोप में गांव सौदापुर निवासी पवन सैनी को भिवानी की सी.आई.ए. टीम गिरफ्तार कर चुकी है।बताया जा रहा है कि पवन 30 नवम्बर से ही स्कूल नहीं जा रहा था। पवन ने 15 दिसम्बर को स्कूल छोढ़ने का नोटिस दिया था लेकिन परीक्षा के दिन वह बेरोक-टोक परीक्षा केंद्र में घुसा और पेपर लीक कर दिया।

एच.एस.एस.सी. के पेपर लीक का खुलासा होने के बाद ड्यूटी मैजिस्ट्रेट, नोडल अधिकारी, परीक्षा सुपरिंटैंडैंट सहित अन्य अधिकारी सवालों के घेरे में आए हुए हैं। भिवानी से आंसर की पकड़ी गई थी जिसके बाद पुलिस ने इस मामले में पेपर लीक मामले की जांच शुरू की। इस मामले में सी.आई.ए. भिवानी की टीम ने पानीपत से पवन सैनी को गिरफ्तार कर साथ ले गई। इस मामले में डी.एस.पी. जगदीप दुहन का कहना है कि पेपर लीक मामले में अभी कुछ पता नहीं लगा है। उस दिन किस अधिकारी की ड्यूटी थी, पेपर किस-किस हाथ में गया, के बारे में जांच की जा रही है। वहीं करुणा मोंटेसरी स्कूल प्राचार्या ज्योतिका भाटिया ने कहा कि पेपर लीक मामले में स्कूल प्रबंधन का कोई रोल नहीं है। बोर्ड के सुपरिंटैंडैंट के सामने बंडल खुलता है। पेपर खोलने की वीडियो रिकाॄडग हुई है। सी.सी.टी.वी. के दायरे में ही पेपर होता है।

सुपरिंटैंडैंट ही पेपर जमा करवाकर आता है। ऐसे में दूसरे स्टाफ का इसमें क्या रोल हो सकता है। स्कूल ने भवन बोर्ड को दिया है। पहले भी परीक्षा होती रहती है। ऐसे में स्कूल प्रबंधन का इसमें कोई रोल नहीं है। किसी संस्थान में एक कर्मचारी गलती करें तो सारा संस्थान गलत नहीं हो सकता। वहीं भिवानी पुलिस ने बताया कि एच.एस.एस.सी. पेपर लीक मामले के आरोपी पानीपत के गांव सौदापुर निवासी पवन सैनी को एक दिन के पुलिस रिमांड पर लिया है। पुलिस आरोपी से पूछताछ कर रही है।

Filed in: News

No comments yet.

Leave a Reply

*

error: Content is protected !!