6:00 pm - Wednesday December 7, 2016

Indian railway history in hindi pdf free download

Railway gk in Hindi – History of Indian Railway 

भारतीय रेलवे न केवल दुनिया की चौथी सबसे बड़ी रेल सेवा है बल्कि यह दुनिया में सर्वाधिक लोगों को नौकरी प्रदान करने वाले प्रक्रमों में से एक है। आइए, कुछ तथ्यों से रूबरू हो लें :-

  • भारतीय रेलवे 63,974 किलोमीटर लंबे रेल मार्ग के साथ दुनिया का चौथा सबसे विशाल रेल यातायात नेटवर्क संचालित करने वाला प्रक्रम है।
  • यह अमेरिका, रूस, चीन तथा कनाडा के साथ दुनिया के पांच सबसे लंबी रेल नेटवर्क संचालित करने वाले प्रक्रमों से एक है।
  • यह एक अरब टन प्रतिवर्ष माल ढोने वाले रेल यातायात क्लब में शामिल हो गया है।
  • भारतीय रेलवे प्रतिदिन 19,000 ट्रेनों का संचालन करता है।
  • इनमें से 12,000 ट्रेनें यात्री ट्रेनें हैं तथा 7,000 ट्रेनें माल ढोने के लिए हैं।
  • भारतीय रेलवे के अंतर्गत 7,083 स्टेशन हैं।
  • खड़गपुर स्थित 2,733 फीट लंबा रेल प्लेटफॉर्म दुनिया का सबसे लंबा रेल प्लेटफॉर्म है।
  • भारतीय रेलवे प्रतिदिन 26.5 लाख टन माल की ढुलाई करता है।
  • भारतीय रेलवे के अंतर्गत 230 लाख यात्री प्रतिदिन यात्रा करते हैं तथा 72 करोड़ यात्री प्रतिवर्ष भारतीय रेलवे का उपयोग करते हैं।
  • भारतीय रेलवे प्रक्रम के अंतर्गत 14 लाख कर्मचारी कार्यरत हैं।
  • इकोनॉमिस्ट पत्रिका के अनुसार, भारतीय रेलवे दुनिया की सातवीं सबसे बड़ी नियोक्ता प्रक्रम है।
  • अमेरिकी रक्षा विभाग, चीनी सेना, वॉल मार्ट, चीनी राष्ट्रीय पेट्रोलियम, स्टेट ग्रिड ऑफ चीन तथा ब्रिटिश स्वास्थ्य सेवा के बाद भारतीय रेलवे दुनिया की सबसे बड़ा नियोक्ता प्रक्रम है।
  • भारतीय रेलवे का राजस्व आधार प्रतिवर्ष 1,06,000 करोड़ रुपये है।
  • भारतीय रेलवे पिछले 170 वर्षो से अपनी सेवा प्रदान कर रहा है।
  • भारतीय रेलवे के अंतर्गत पहली ट्रेन 16 अप्रैल 1843 को मुंबई से ठाणे के बीच चली थी। इंडो-एशियन न्यूज सर्विस।

भारतीय रेलवे जोन

1. उत्तर रेलवे (उरे) 14 अप्रैल 1952 दिल्ली
2. पूर्वोत्तर रेलवे (एनईआर) 1952 गोरखपुर
3. पूर्वोत्तर सीमांत रेलवे (एनएफआर) 1958 गुवाहाटी
4. पूर्व रेलवे (पूरे) अप्रैल 1952 कोलकाता
5. दक्षिण-पूर्व रेलवे (दपूरे) 1955 कोलकाता
6. दक्षिण-मध्य रेलवे (दमरे) 2 अक्टूबर 1966 सिकंदराबाद
7. दक्षिण रेलवे (दरे) 14 अप्रैल 1951 चेन्नई
8. मध्य रेलवे (मरे) 5 नवंबर 1951 मुंबई
9. पश्चिम रेलवे (परे) 5 नवंबर 1951 मुंबई
10. दक्षिण-पश्चिम रेलवे (दपरे) 1 अप्रैल 2001 हुबली
11. उत्तर-पश्चिम रेलवे (उपरे) 1 अक्टूबर 2002 जयपुर
12. पश्चिम-मध्य रेलवे (पमरे) 1 अप्रैल 2003 जबलपुर
13. उत्तर-मध्य रेलवे (उमरे) 1 अप्रैल 2003 इलाहाबाद
14. दक्षिण-पूर्व-मध्य रेलवे (दपूमरे) 1 अप्रैल 2003 बिलासपुर
15. पूर्व तटीय रेलवे (पूतरे) 1 अप्रैल 2003 भुवनेश्वर
16. पूर्व-मध्य रेलवे (पूमरे) 1 अक्टूबर 2002 हाजीपुर
17. कोंकण रेलवे (केआर) 26 जनवरी 1998 नवी मुंबई

 

Filed in: General Knowledge

No comments yet.

Leave a Reply

*
error: Content is protected !!