2:37 pm - Wednesday October 18, 2017

कल के आंदोलन की तैयारी में जुटे जाट और सरकार, दोनों की ड्रोन से निगरानी की तैयारी

19 फरवरी को जसिया में जाटों द्वारा मनाए जाने वाले बलिदान दिवस को लेकर जाट समाज व सरकार अपनी-अपनी तैयारी में जुटे हुए हैं। अखिल भारतीय जाट आरक्षण संघर्ष समिति के राष्ट्रीय अध्यक्ष जसिया में 6 लाख लोगों की भीड़ जुटाने के लिए जोर लगा रहे हैं तो सरकार, पुलिस, प्रशासन, पैरामिलिट्री व सेना यहां किसी अप्रिय घटना को रोकने के लिए पुख्ता प्रबंध करने में जुटी हुई है। दोनों पक्ष ड्रोन से निगरानी रखने की कर रहे तैयारी…

नेशनल हाईवे-71 ए किया जा सकता है बंद- भीड़ को देखते हुए कयास लगाए जा रहे हैं कि एक दिन के लिए रोहतक-पानीपत हाईवे को वाया खरखौदा-गोहाना किया जा सकता है।- ताकि आम लोग इस आंदोलन से दूर रहें।

कुल 18 कंपनियां रहेंगी तैनात- पुलिस, रैपिड एक्शन फोर्स व पैरामिलिट्री की 18 कंपनियां जसिया में तैनात की गई हैं।- सेना को भी अलर्ट रखा गया है, स्थिति बिगड़ने पर कुछ घंटों के अंदर सेना मोर्चा संभाल लेगी।

आंदोलन के बाद हो सकती है दूसरे लेवल की बातचीत- जाट व सरकार के बीच पहली लेवल की बातचीत विफल होने के बाद अब दूसरे लेवल की बातचीत 20 फरवरी को हो सकती है।- इसके लिए न्यौता दे दिया गया है। अभी जगह तय नहीं हुई है।

Filed in: News

No comments yet.

Leave a Reply

*

error: Content is protected !!