2:41 pm - Wednesday October 18, 2017

एमफिल पास भी सेवादार बनने को तैयार, 8 पदों के लिए इंटरव्यू देने पहुंचे 4 हजार युवा

युवाओं पर बेरोजगारी किस कदर हावी है। इसका ताजा उदाहरण शनिवार से जिला अदालत में चल रही चतुर्थ श्रेणी के पदों की भर्ती में देखने को मिल रहा है। यहां पर मात्र आठ पदों के लिए भर्ती हो रही है। जिसमें 4 हजार से अधिक युवा साक्षात्कार देने के लिए पहुंचे है।

बेरोजगारी का आलम यह है कि चतुर्थ श्रेणी के इन आठ पदों के लिए न्यूनतम शिक्षा की योग्यता दसवीं पास रखी गई है। जबकि इस नौकरी के लिए आवेदन करने वाले युवा एमफिल और एमए, बीएड पास है। जब उनसे इस बारे में पूछा जाता है तो सिर्फ इतना ही कहते हैं कि सरकारी नौकरी चाहिए। चाहे चपरासी की हो या फिर प्यादे की। इसलिए वे यहां पर साक्षात्कार देने आए हैं।

शनिवार को जहां दो प्यादे और एक स्वीपर के पद के लिए साक्षात्कार हुए थे। वहीं रविवार को बाकी बचे पीएन के पांच पदों लिए साक्षात्कार हुआ। शनिवार को करीब 1700 आवेदकों ने तीन पदों के लिए साक्षात्कार दिया। जबकि रविवार को चपरासी के 5 पद के लिए दो हजार से अधिक आवेदक पहुंचे। इस पद के लिए करीब 3 हजार आवेदकों ने आवेदन किया हुआ है। इसलिए बाकी बचे उम्मीदवारों का साक्षात्कार सोमवार को होगा।

रोजगार के मामले में सिरसा के युवा भी बहुत पिछड़े हुए हैं। रोजगार कार्यालय में दर्ज आंकड़ों मुताबिक बात करें तो हजारों ग्रेजुएट और पोस्ट ग्रेजुएट युवा बेरोजगार बैठे हैं। जिला में 1300 के करीब पोस्ट ग्रेजुएट हैं। जबकि इसके अलावा ग्रेजुएट बेरोजगारों की संख्या 2576 है। वहीं 12वीं पास 7500 आवेदक हैं। इनमें से 490 ग्रेजुएट और 1016 बारहवीं पास आवेदकों को विभाग बेरोजगारी भत्ते के रूप में 1500 और 900 रुपए मासिक दे रहा हैं। वहीं अब पोस्ट ग्रेजुएट को सक्षम योजना के तहत काम देने की बात कही जा रही है।

पांच चपरासी और दो प्यादा सहित एक स्वीपर पद के लिए चल रही जिला अदालत में भर्ती में भाग लेने के लिए प्रदेश के दूसरे जिलों से तो आवेदक पहुंचे ही थे। जबकि राजस्थान के हनुमानगढ़ और श्रीगंगानगर जिले से भी डिग्री धारक चपरासी पद के लिए साक्षात्कार देने आए हुए थे। अभ्यार्थियों की भारी भीड़ देखते हुए पुलिस सुरक्षा भी तैनात की गई थी।

हनुमानगढ़ से सिरसा कोर्ट पहुंचे राजेंद्र कुमार ने बताया कि उसने बीए तक पढ़ाई की हुई है। उसने यह ऑनलाइन फार्म भरा था। अब साक्षात्कार देने आए हैं। वहीं कैथल से पहुंचे राजीव ने बताया कि उसने एमफिल की पढ़ाई की है। अब से पहले नौकरी के लिए काफी फार्म भरे हैं। जब कामयाबी नहीं मिली तो चतुर्थ श्रेणी की नौकरी में अप्लाई करना शुरू कर दिया। इसके अलावा सिरसा के भी राजेश, परमवीर, अमरीक ने बताया कि वे सभी ग्रेजुएट और पोस्ट ग्रेजुएट हैं। बस सरकारी नौकरी के लिए उन्होंने चपरासी पद के लिए भी अप्लाई कर दिया है। यहां आकर देखा तो यहां भी आवेदकों की भारी भीड़ है। जबकि पीएन के पद मात्र 5 ही हैं।

Filed in: Jobs, News

No comments yet.

Leave a Reply

*

error: Content is protected !!