9:28 pm - Tuesday May 22, 2018

काले ब्राह्मण वाले सवाल पर एचएसएससी चीफ एग्जामिनर से 10 दिन में मांगा जवाब, गरमाई राजनीति

हरियाणा कर्मचारी चयन आयोग (एचएसएससी)की ओर से हुडा में जूनियर इंजीनियर की भर्ती में ब्राह्मण समुदाय को लेकर पूछे गए सवाल पर उपजे विवाद के बाद आयोग ने चीफ एग्जामिनर को नोटिस जारी कर दिया है। आयोग ने पूछा है कि वह बताए कि यह सवाल पेपर में क्यों शामिल किया गया? इस सवाल को शामिल करने का सूत्र कौन है? इसके साथ ही कहा कि क्यों न आपके खिलाफ कार्यवाही की जाए? इसके अलावा एग्जामिनर को यह भी हिदायत जारी की गई है कि भविष्य में किसी भी पेपर में ऐसा कोई सवाल न पूछा जाए, जिससे किसी की भावना को ठेस पहुंचे।

भाजपा-कांग्रेस नेताओं ने भी खोला मोर्चा

इस सवाल से आयोग के साथ सरकार की किरकिरी होने से विपक्ष को भी मुद्दा मिल गया है। वे इस पर सरकार को घेरने की योजना बना रहे हैं। वहीं ब्राह्मण समुदाय प्रदेश भर में विरोध प्रदर्शन कर रहा है। एचएसएससी के चेयरमैन भारत भूषण भारती ने बताया कि इस मामले में चीफ एक्जामिनर से दस दिन में जवाब देने को कहा गया है। इस मामले की पड़ताल या दोषियों को पकड़ने के लिए एफआईआर भी दर्ज करानी पड़ी तो उससे भी गुरेज नहीं किया जाएगा।

इसलिए हुआ विवाद
आयोग ने परीक्षा में पूछा था हरियाणा में क्या अपशकुन माना जाता है। इसमें काले ब्राह्मण से मिलना और ब्राह्मण की बेटी को देखना भी दो विकल्प में रखा गया था।

आज राज्यपाल के नाम देंगे ज्ञापन

हिसार समेत प्रदेश के कई जिलों में सोमवार को ब्राह्मण समुदाय ने इसके खिलाफ प्रदर्शन किया। पंचकूला में समस्त ब्राह्मण समाज की ओर से मंगलवार को राज्यपाल के नाम डीसी को ज्ञापन दिया जाएगा। जगदीप अत्री ने बताया कि ज्ञापन में सरकार से इस मामले में आपराधिक केस दर्ज कराने की मांग की जाएगी। पेपर तैयार करने वाले और इसे पास करने वाले के खिलाफ कार्यवाही की जाए।

ब्राह्मण समुदाय पर सवाल पूछना निंदनीय: वत्स

भाजपा राज्यसभा सदस्य डीपी वत्स ने इसकी निंदा की है। उन्होंने विपक्षी नेताओं द्वारा मुख्यमंत्री का इस्तीफा मांगे जाने पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि हरियाणा कर्मचारी चयन आयोग एक स्वतंत्र इकाई है। समुदाय विशेष की भावनाओं को आहत करने के मामले में आयोग द्वारा मुख्य परीक्षक के खिलाफ कार्रवाई करने का भरोसा दिया गया है। आयोग द्वारा मामला संज्ञान में आते ही पूरे मामले में खेद जताते हुए जांच के निर्देश दे दिए थे।

ब्राह्मणों का नहीं 36 बिरादरी का किया अपमान: दलाल
कांग्रेस के विधायक करण दलाल ने कहा है कि परीक्षा में ब्राह्मणों का ही नहीं बल्कि 36 बिरादरी का अपमान किया है। हरियाणा में ब्राह्मण को पूरा सम्मान दिया जाता है। ऐसे में मुख्यमंत्री और चेयरमैन को माफी मांगनी चाहिए। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार पहले धर्म के नाम पर बांटती थी, अब जाति और रंग के आधार पर बांटने का काम कर रही है। कांग्रेस जल्द ही एक बैठक कर इस मामले में रणनीति बनाएगी। सवाल देने वाले पर देशद्रोह का केस दर्ज होना चाहिए।

यह खबर आप हिन्दी रोजगार समाचारपत्र  दैनिक एक्स्प्रेस वेबसाइट के द्वारा पढ़ रहे है।

कृप्या अगर आपको हमारी यह पोस्ट पसंद आए तो ज्यादा से ज्यादा शेयर एवम् लाइक करे:-www.fb.com/dainikexpress

हम खबरें छिपाते नहीं छापते है।

 

Filed in: News

No comments yet.

Leave a Reply

*

error: Content is protected !!