7:37 am - Tuesday January 23, 2018

बस चालक भर्ती होने आए 54 में से 34 फेल, 8 कैमरों की निगरानी में होंगे टेस्ट

परिवहन विभाग में ड्राइवराें के लिए भर्ती प्रक्रिया सोमवार से शुरू हो गई। प्रदेश में बनाए गए 16 सेंटरों में शामिल रोहतक जिले के न्यू बस स्टैंड की वर्कशॉप में सुबह 9 बजे 60 उम्मीदवार ड्राइविंग दक्षता टेस्ट के लिए एकत्रित हुए।

सीसीटीवी कैमरे की निगरानी में होगा टेस्ट

– महाप्रबंधक राहुल जैन की अगुवाई में गठित चार सदस्यीय कमेटी ने वर्कशॉप के अंदर लगे 8 सीसीटीवी कैमरों की निगरानी में टेस्ट लेना शुरू किया। दो बसों के जरिये उम्मीदवारों काे पहले चरण में रिवर्स डग टेस्ट, दूसरे चरण में रिवर्स एंड फारवर्ड में शेप टेस्ट तीसरे चरण में जिग जैग टेस्ट रोड टेस्ट लिए जाने की प्रक्रिया अपनाई गई।

– देर शाम 8 बजे तक चले टेस्ट में 60 में से 54 उम्मीदवारों ने डग टेस्ट में हिस्सा लिया। रिवर्स गियर में डग टेस्ट देने में महज 20 उम्मीदवार ही सफल हो सके, जबकि 34 असफल रहे।

– महाप्रबंधक राहुल जैन ने बताया कि यह टेस्ट प्रक्रिया नौ दिसंबर 14, 15 दिसंबर तक लगातार जारी रहेगी, इसमें रोजाना 60 उम्मीदवारों के टेस्ट लिए जाएंगे। रोहतक जिले में बने सेंटर में कुल 702 उम्मीदवारों की ड्राइविंग टेस्ट दक्षता का आकलन किया जाएगा।

– उन्होंने बताया कि टेस्ट प्रक्रिया में पूरी तरह से पारदर्शिता बनी रहे, इसके लिए हमने पूरे वर्कशॉप परिसर में 8 सीसीटीवी कैमरे लगवाकर प्रत्येक उम्मीदवार द्वारा दी गई परीक्षा की रिकॉर्डिंग कराई है ताकि कोई भी उम्मीदवार भविष्य में पक्षपात किए जाने के आरोप लगा सके।

– गौरतलब है कि प्रदेश में रोडवेज बसें चालकों की कमी से खड़ी रहने के कारण प्रदेश सरकार द्वारा भर्ती तेजी से की जा रही है। लिखित परीक्षा पास करने वाले पात्रों के ड्राइविंग टेस्ट लिए जा रहे हैं।

डग टेस्ट में रोडवेज का ड्राइवर रहा फ्लॉप
– टेस्ट देने आए उम्मीदवारों ने बताया कि डग टेस्ट देने से पहले कमेटी के सदस्यों द्वारा रोडवेज में सेवा दे रहे एक चालक को डेमो देने के लिए कहा। बताया जा रहा है कि वह चालक ही रिवर्स गियर में डग टेस्ट में बस को ऊंचाई पर नहीं चढ़ा पाया।

– उम्मीदवारों ने बताया कि जब रोडवेज का चालक इतना कठिन टेस्ट नहीं दे पाया तो हम लोग कैसे सफल हाेंगे। महाप्रबंधक राहुल जैन ने कहा कि चालक के फ्लॉप के आरोप निराधार हैं। हमने पूरी रिकॉर्डिंग कराई है।

ट्रक चलाने वाले हैं अधिकांश उम्मीदवार
– वर्क शाॅपमें 10 से अधिक उम्मीदवारों से बात की गई तो उन्होंने बताया कि वे नियमित तौर पर ट्रक चालक हैं। हमें रोडवेज विभाग में ड्राइवर भर्ती के बारे में पता चला था तो आवेदन कर दिया। लिखित परीक्षा में पास हो गए तो अब ड्राइविंग दक्षता टेस्ट देने आए हैं। भारी वाहन चलाने का अनुभव है तो यहां टेस्ट में देने में कोई दिक्कत नहीं आएगी।

यह खबर आप हिन्दी रोजगार समाचारपत्र दैनिक एक्स्प्रेस वेबसाइट के द्वारा पढ़ रहे है।

कृप्या अगर आपको हमारी यह पोस्ट पसंद आए तो ज्यादा से ज्यादा शेयर एवम् लाइक करे:-www.fb.com/dainikexpress

हम खबरें छिपाते नहीं छापते है।

 

Filed in: Jobs

No comments yet.

Leave a Reply

*

error: Content is protected !!