4:15 am - Tuesday April 17, 2018

हरियाणा में 29 साल पुराने टीजीटी अौर ईएसएचएम बनेंगे हेडमास्टर

ह‍रियाणा के शिक्षकाें के लिए खुशखबरी है। राजकीय उच्च विद्यालयों में लंबे अरसे से रिक्त हेडमास्टर के पदों को पदोन्नति के जरिये भरा जाएगा। इन पदों पर 31 दिसंबर 1989 से पहले लगे मौलिक शिक्षा मुख्याध्यापकों (ईएसएचएम) और ट्रेंड ग्रेजुएट टीचर (टीजीटी) को नियुक्त किया जाएगा।

प्रदेश में हेड मास्टर के स्वीकृत 1291 पदों में से 851 खाली :- प्रदेश के हाई स्कूलों में हेड मास्टर के कुल 1291 पद स्वीकृत हैं, लेकिन केवल 440 में ही मुख्याध्यापक तैनात हैं। 851 हाई स्कूल बगैर मुख्य अध्यापकों के चल रहे हैं जिससे इन स्कूलों में पढ़ाई के साथ-साथ अन्य प्रशासनिक कार्य प्रभावित हो रहे हैं। शिक्षक संघ लंबे समय से रिक्त पदों को भरने की मांग करते आ रहे हैं।

नए सत्र में पदोन्नति से इन पदों को भरने के लिए शिक्षा निदेशालय ने सभी जिला शिक्षा अधिकारियों (डीईओ), जिला मौलिक शिक्षा अधिकारियों (डीईईओ) और राज्य शैक्षिक अनुसंधान एवं प्रशिक्षण परिषद (एससीईआरटी) निदेशक से पदोन्नति के पात्र ईएसएचएम और टीजीटी की सूची मांगी है।

बताया जाता है कि माध्यमिक शिक्षा निदेशक ने पदोन्नति के सभी मामलों में पात्र लोगों की व्यक्तिगत फाइल मांगी है। पदोन्नति केवल उन्हीं शिक्षकों की होगी जिनके खिलाफ कोई शिकायत या विभागीय और न्यायिक जांच लंबित न हो। 15 दिन में इसका प्रमाणपत्र स्पेशल मैसेंजर के जरिये देना होगा।

जानकारी के अनुसार, सात कॉलम की रिपोर्ट में पात्र ईएसएचएम और टीजीटी को अपना नाम, स्कूल, शैक्षणिक योग्यता, विभाग में नियुक्ति की तिथि, पक्के होने का दिन, जनवरी 2012 को वरिष्ठता क्रमांक की जानकारी देनी होगी। इसके अलावा अगर कोई जांच लंबित है तो इसका ब्योरा भी रिपोर्ट में देना पड़ेगा।

यह खबर आप हिन्दी रोजगार समाचारपत्र  दैनिक एक्स्प्रेस वेबसाइट के द्वारा पढ़ रहे है।

कृप्या अगर आपको हमारी यह पोस्ट पसंद आए तो ज्यादा से ज्यादा शेयर एवम् लाइक करे:-www.fb.com/dainikexpress

हम खबरें छिपाते नहीं छापते है।

 

Filed in: Education News, Jobs, News

No comments yet.

Leave a Reply

*

error: Content is protected !!