1:26 pm - Sunday April 15, 2018

हरियाणा में चतुर्थ श्रेणी नौकरियों में अब हर दसवां कर्मचारी खिलाड़ी

खेलों को बढ़ावा देने के लिए हरियाणा में अब सरकारी नौकरियों में खिलाड़ियों को ज्यादा तवज्जो मिलेगी। चतुर्थ श्रेणी पदों पर खिलाड़ियों को दस फीसद तक होरिजेंटल आरक्षण दिया जाएगा। वहीं, ग्रुप ए, बी और सी कैटेगरी की भर्तियों में राष्ट्रीय स्तरीय खिलाड़ियों को तीन फीसद होरिजेंटल आरक्षण मिलेगा।

सरकारी, सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रमों और स्थानीय निकायों में होने वाली सीधी भर्ती में खिलाडिय़ों को इसका लाभ दिया जाएगा। अभी तक सभी श्रेणियों में खिलाडिय़ों को तीन फीसद कोटा दिया जा रहा था। नए नियमों को लेकर सभी प्रधान सचिवों, विभागाध्यक्ष, हाईकोर्ट और विश्वविद्यालयों के रजिस्ट्रार, उपायुक्त, एसडीएम और बोर्ड-निगमों के प्रबंध निदेशकों को आदेश जारी कर दिए हैं। खिलाडिय़ों को पहले जहां आउट स्टैंडिंग स्पोट्र्स पर्सन की श्रेणी में नौकरियां दी जा रहीं थी, वहीं अब इसका नाम बदल कर ऐलिजिबल स्पोट्र्स पर्सन किया गया है।

आदेशों के मुताबिक कोटे के तहत आवेदन करने वाले खिलाड़ी के लिए हरियाणा की ओर से राष्ट्रीय स्तर पर खेलना अनिवार्य है। सभी श्रेणी की नौकरियों में खिलाड़ी की योग्यता अलग-अलग रखी गई है। अगर कोई आवेदक दिव्यांग और खिलाड़ी दोनों कोटे में जगह बनाने में कामयाब रहता है तो उसे दिव्यांग कोटे में ही एडजस्ट किया जाएगा।

क्या है होरिजेंटल आरक्षण

होरिजेंटल आरक्षण का मतलब दूसरी श्रेणी के कोटे को छेड़छाड़ किए बगैर अलग से आरक्षण देना है। अगर किसी विभाग में 100 सीटों के लिए आवेदन मांगे गए हैं तो खिलाड़ी कोटे की सीटें अलग से निकाल दी जाएंगी। इसे ऐसे भी समझ सकते हैं कि किसी पद पर इस श्रेणी के तहत जितने लोग आवेदन करेंगे, उनकी योग्यता के मुताबिक सूची बनाई जाएगी। इसमें शीर्ष उम्मीदवारों को छांट लिया जाएगा और ये उम्मीदवार जिस कैटेगरी के होंगे, उस आरक्षण श्रेणी की सूची में सबसे नीचे की सीटों पर इन्हें एडजस्ट कर दिया जाएगा।

किस ग्रुप में किस को आरक्षण

ग्रुप ए : ओलंपिक, वल्र्ड कप, एशियाई खेलों, राष्ट्रमंडल खेलों, अंतरराष्ट्रीय चैंपियनशिप, वल्र्ड यूनिवर्सिटी खेलों में पदक विजेता खिलाड़ी इस वर्ग में आवेदन कर सकेंगे।

ग्रुप बी : ओलंपिक, वल्र्ड कप, एशियाई खेलों, राष्ट्रमंडल खेलों, अंतरराष्ट्रीय चैंपियनशिप, वल्र्ड यूनिवर्सिटी, सैफ गेम्स और अंतरराष्ट्रीय या एक दिवसीय घरेलू क्रिकेट टेस्ट खेलने वाले खिलाड़ी इस वर्ग में आवेदन कर सकेंगे।

ग्रुप सी : गैर ओलंपिक खेलों के पदक विजेता खिलाड़ी इस वर्ग में आवेदन कर सकते हैं।

ग्रुप डी : राष्ट्रीय खेल, राष्ट्रीय स्कूल खेल, अखिल भारतीय अंतरविश्वविद्यालय खेल, अखिल भारतीय ग्रामीण खेलों के अलावा राज्य स्तरीय खेलों के पदक विजेता इस वर्ग में आरक्षण के पात्र होंगे।

यह खबर आप हिन्दी रोजगार समाचारपत्र  दैनिक एक्स्प्रेस वेबसाइट के द्वारा पढ़ रहे है।

कृप्या अगर आपको हमारी यह पोस्ट पसंद आए तो ज्यादा से ज्यादा शेयर एवम् लाइक करे:-www.fb.com/dainikexpress

हम खबरें छिपाते नहीं छापते है।

 

Filed in: News

No comments yet.

Leave a Reply

*

error: Content is protected !!