7:39 am - Tuesday January 23, 2018

2 साल से चल रहा था अनिल जिंदल के SRS माल में Sex रैकेट, 6 युवतियों सहित 10 गिरफ्तार

फरीदाबाद: अभी कुछ मिनट पहले हमने सूत्रों द्वारा बताया था कि चम्बल के डकैतों को फेल करने वाले लाला गैंग के एक साथी के माल में एक बड़ा सेक्स रैकेट पकड़ा गया है। सूत्र सौ फीसदी सच हैं और SRS माल में ये सेक्स रैकेट फरीदाबाद पुलिस ने पकड़ा है। हरियाणा अब तक को अब तक जो जानकारी मिली है उसके मुताबिक़ फरीदाबाद के सेक्टर 12 में पिछले दो साल से इस माल में मसाज पार्लर आड में चल रहे देह व्यापार के धंधे का महिला थाना पुलिस ने पर्दापाश किया है। पुलिस ने स्पा सेंटर से 6 युवतियों सहित दस लोगों को आपत्ती जनक स्तिथि में गिरफ्तार कर उनके खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है । पुलिस को लम्बे समय से यहाँ मसाज पार्लर की आड़ में जिस्मफरोशी करने की शिकायते मिल रही थी।

फरीदाबाद पुलिस को एक मुखबिर ने सूचना दी थी कि एसआरएस मॉल में मसाज पार्लर की आड में देह व्यापार का गोरख धंधा चल रहा है इस पर महिला थाना की एसएचओ सविता रानी ने टीम गठन कर वहां पर छापेमारी की तो वहाँ युवक और युवतियों आपत्तिजनक स्तिथि में मिले। जिन्हे गिरफ्तार कर लिया गया है । महिला थाना एसएचओ ने बताया कि उनको सूचना मिली थी कि मॉल में मसाज की आड में देह व्यापार का धंधा चलाया जा रहा है इस पर उन्होंने वहां छापेमारी की और छह युवतियों समेत दस लोगो को गिरफ्तार कर लिया है. उन्होंने बताया की इन सभी के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है। उन्होंने कहा है कि ऐसे अनैतिक कामों की लोग ऐसे सूचना पुलिस को देने में संकोच ना करें और यदि उन्हें ऐसी कोई भी सूचना मिलेगी तो उस और तुरंत कार्यवाही की जायेगी।

मालुम हो कि फरीदाबाद के मॉल्स में दर्जनों मसाज पार्लर चलाय जा रहे है जिनपर पुलिस कई बार छपेमारी कर मामले दर्ज कर चुकी है लेकिन इसके बावजूद जिस्मफिरोशी का धंधा लगातार जारी है. जरूरत है पुलिस को और भी कड़े कदम उठाने की, लेकिन इन मालों के मुखिया मालामाल लोग हैं और मालमालों पर बड़े बड़े नेताओं का हाँथ हैं, लोकल पुलिस अपनी मर्जी से इनपर हाँथ डाले तो मालदार लोग ऐसे पुलिस अधिकारीयों का तबादला किसी जंगलनुमा जिले में करवा देते हैं। इधर कुंआ उधर खाईं लेकिन कुछ पुलिस अधिकारी सफेदपोशों और मालदारों को कुछ नहीं समझते और ऐसे रैकेट का भांडाफोड़ करते रहते हैं।

Filed in: News

No comments yet.

Leave a Reply

*

error: Content is protected !!