3:47 pm - Wednesday April 18, 2018

ग्राम सचिवों की बराला को दो टूक, कहा- 20 रुपए में कोई साइकिल का पंक्चर भी नहीं लगाता

ग्राम सचिव वेलफेयर एसोशिएशन की बैठक में पहुंचे भाजपा प्रदेशाध्यक्ष सुभाष बराला से फतेहाबाद के 74 ग्राम सचिवों ने उन्हें संयुक्त रुप से मिलकर 1480 रुपए के वाहन भत्ते का चेक देना चाहा। उस समय बराला को असहज स्थिति का सामना करना पड़ा। इस दौरान ग्राम सचिवों ने बराला को खरी-खरी भी सुनाई।

ग्राम सचिवों का गुस्सा वाहन भत्ते के तौर पर उन्हें मिलने वाले 20 रुपए को लेकर था। बाजपा प्रदेशाध्यक्ष को ज्ञापन देते समय बाकायदा गुस्साए ग्राम सचिवों ने बराला को दो टूक कहा कि 20 रुपए में तो आजकल साइकिल का पंचर भी नहीं लगता है। ग्राम सचिवों ने उन्हें यहा तक कह दिया कि वे इस चेक को मुख्यमंत्री राहत कोष में जमा करवा दें। इतना ही नहीं उन्होंने कहा कि आगे से उनको मिलने वाला 20 रुपए का वाहर भत्ता सीधा उनके वेतन से काटकर मुख्यमंत्री राहत कोष में जमा करवा दिया जाए। इस दौरान बराला ने उनका मांग सरकार तक पहुंचाने का आश्वासन दिलाया।

इससे पहले ग्राम सचिव वेलफेयर एसोसिएशन की बैठक जिलाध्यक्ष रामफल मलिक की अधक्षता में हुई। जिसमें एक अप्रैल से शुरू की जा रही अॉनलाइन प्रक्रिया में खामियां बताते हुए इसके खिलाफ एक ज्ञापन बीजेपी प्रदेशाध्यक्ष सुभाष बराला को सौंपा। ग्राम सचिवों का कहना था कि वे सरकार की अॉनलाइन प्रक्रिया के विरोध में नहीं है उनका यहीं कहना है कि सरकार बिना उन्हें अॉपरेटर दिए अॉनलाइन काम करवाना चाहती है। जिसके चलते वो इस योजना का भी विरोध करते हैं।

यह खबर आप हिन्दी रोजगार समाचारपत्र  दैनिक एक्स्प्रेस वेबसाइट के द्वारा पढ़ रहे है।

कृप्या अगर आपको हमारी यह पोस्ट पसंद आए तो ज्यादा से ज्यादा शेयर एवम् लाइक करे:-www.fb.com/dainikexpress

हम खबरें छिपाते नहीं छापते है।

 

Filed in: News

No comments yet.

Leave a Reply

*

error: Content is protected !!