7:51 am - Tuesday May 22, 2018

पानीपत के इस जवान ने दो महीने पहले ज्वाईन की थी ड्यूटी, नक्सली हमले में शहीद

शनिवार को अरुणाचल प्रदेश में हुए नक्सली हमले में घायल हुआ एक जवान पानीपत का था, जिसकी शहादत की खबर आज मंगलवार को आई। 20 वर्षीय शहीद सचिन राजपूताना रेजीमेंट में था।  नक्सलियों से लोहा लेते हुए शहीद सचिन ने देश के लिए अपने प्राण न्यौछावर कर दिए। पानीपत के गांव गोयला खेड़ा का जवान सचिन ने दो माह पहले ही ट्रेनिंग के बाद आर्मी की ड्यूटी ज्वाईन की थी। शहीव पार्थिव शव कल 11 बजे पैतृक गोयल खुर्द में लाया जाएगा। यहां उसका राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार होगा।

शहीद सचिन शर्मा के पिता सुरेंद्र कुमार कौशिक ने बताया कि, उनके पास मंगलवार को अरुणाचल प्रदेश से टेलीफोन पर आर्मी ने बेटे की शहादत की खबर दी है। उन्होंने बताया कि 20 वर्षीय सचिन अरुणाचल प्रदेश में शनिवार को नक्सली हमले में गंभीर रूप से घायल हुआ था। उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया था, जहां मंगलवार सुबह सचिन ने आखिरी सांस ली।

सुरेंद्र ने बताया कि, उन्होंने प्राइवेट आटा मिल में नौकरी अपने दो बेटों और दो बेटियों को पढ़ाया। एक बेटी सचिन से बड़ी है, जबकि बाकी दो बच्चे यानि एक बेटा और एक बेटी उससे छोटे हैं। छोटा बेटा 10वीं में पढ़ रहा है। इनमें से सचिन 12वीं तक पढ़ाई करके एक साल पहले रोहतक में आर्मी राजपूत रेजिमेंट 16 बटालियन में भर्ती होने के ट्रेनिंग पूरी करके 2 महीने छुट्टी पर आकर घर रहा और अब 2 महीने पहले ही उसने ड्यूटी ज्वाइन की थी।

पूरे गांव में नहीं चढ़ा तवा
शहादत की सूचना के बाद जहां परिजनों के पैरों तले की जमीन खिसक गई, वहीं पूरे गोयला खुर्द गांव में मातम का माहौल बन गया। इस सूचना के बाद गांव में किसी भी घर में तवा नहीं चढ़ा है, वहीं ग्रामीणों का शहीद के घर जमावड़ा लगा हुआ है। सभी शहीद के परिजनों को सांत्वना देने का प्रयास कर रहे हैं।

Filed in: News

No comments yet.

Leave a Reply

*

error: Content is protected !!